Short Stories For Kids in Hindi / Very Short Hindi Moral Stories Writing

Short Stories For Kids in Hindi बहुत समय पहले की बात है। एक गाँव में एक किसान रहता था।  वह रोज सुबह उठकर झरनों से स्वच्छ पानी लाया करता था।

 

 

 

इसके लिए वह अपने साथ दो बड़े घड़े ले जाता था और उसे वह डंडे में बांधकर अपने कंधे पर दोनों तरफ लटका लेता था। उनमें से एक घड़ा फूटा हुआ था जबकि दूसरा बिलकुल सही था।

 

 

 

Short Stories For Kids in Hindi to Read

 

 

 

 

इस वजह से घर तक पहुंचते – पहुंचते फूटे हुए घड़े का आधा पानी गिर जाता था और इस तरह से डेढ़ घड़ा पानी ही बचता था।  इस तरह से बहुत दिनों तक चलता रहा।

 

 

 

 

सही घड़े को इस बात का बड़ा घमंड था कि वह पूरा पानी घर तक पहुंचाता है और उसमें कोई भी कमी नहीं है, जबकि फूटा घड़ा हमेशा शर्मिन्दा रहता था कि वह आधा पानी ही घर तक पहुंचा पाता  है।

 

 

 

 

short-stories-for-kids-in-hindi-written-in-short

 

 

 

 

यह सब सोचकर फूटा घड़ा  बहुत परेशान  रहने  लगा  और  एक  दिन उसने किसान से कहा, ” मैं बहुत ही शर्मिन्दा हूँ और आपसे क्षमा मांगना चाहता हूँ।

 

 

 

इसपर किसान ने पूछा, ” क्यों ? ऐसी क्या बात हो गयी जिससे आपको क्षमा मांगनी पड़ रही है ? ”

 

 

 

तब घड़ा बोला, ” शायद  आप  नहीं  जानते  पर  मैं  एक  जगह  से  फूटा  हुआ  हूँ , जिसकी वजह से पिछले कई सालों से जितना पानी घर पर पहुँचना चाहिए उससे काम ही पहुँच पाता  है और इसमें मेरी कमी है।  मेरी वजह से आपकी मेहनत और समय की बर्बादी होती है। ”

 

 

 

इस पर किसान बोला, ” कोई बात नहीं, कल घर आते हुए तुम रास्ते में  पड़ने वाले सुन्दर फूलों को देखना। ”

 

 

 

अगले दिन घड़े ने वैसा ही किया।  उसे बहुत सारे रंग – बिरंगे फूल दिखाई दिये, लेकिन घर पहुंचते – पहुंचते फिर आधा पानी रास्ते में गिर गया था और घड़ा फिर से उदास हो गया।

 

 

उसे उदास देखकर किसान ने कहा, ” शायद आपने ध्यान नहीं दिया कि रास्ते में जितने भी फूल थे वे उसी तरफ थे जिस तरफ आप रहते हो।  दूसरी तरफ कोई भी फूल नहीं था। ऐसा इसलिए हुआ, क्योंकि मैं आपको कमजोरी को जानता था इसलिए मैंने उसका लाभ उठाया और उस रास्ते पर फूलों के बीज बो दिए।  तुम  रोज़  थोडा-थोडा  कर  के  उन्हें  सींचते  रहे  और  पूरे  रास्ते  को  इतना  खूबसूरत  बना  दिया। आज उन फूलों का बहुत लोग लाभ उठा रहे हैं। ”

 

 

 

 

Moral – सबके अंदर कोई ना कोई कमी होती है।  उस कमी को अच्छाई में बदल देने वाला ही श्रेष्ठ होता है। 

 

 

 

हिंदी कहानिया न्यू 

 

 

 

 

2-  बहुत समय पहले की बात है।  दो दोस्त शहर जा रहे थे।  गर्मी बहुत थी।  वे थक जाने पर बीच – बीच में रुकते और आराम करते।  चलते – चलते दोपहर हो गयी।  उन्होंने भूख भी लगी हुई थी।

 

 

 

 

उन्होंने एक जगह छाँव देखकर भोजन करने की सोची।  खाना खाते – खाते दोनों किसी बात को लेकर उनमें बहस छिड़ गयी और बात इतनी बढ़ गयी कि एक दोस्त दूसरे को थप्पड़ मार दिया।

 

 

 

 

लेकिन थप्पड़ खाने के बाद भी दूसरा दोस्त चुप रहा और उसने कोई विरोध नहीं किया, बस उसने पेड़ की एक टहनी उठाई और उसने मिटटी पर लिख दिया, ” आज  मेरे सबसे अच्छे दोस्त ने मुझे  थप्पड़  मारा। ”

 

 

 

 

थोड़ी देर बाद दोनों ने पुनः यात्रा शुरू की।  दोनों एक – दूसरे से बात नहीं कर रहे थे।  तभी अचानक से थप्पड़ खाने वाला दोस्त चीखा।  दूसरे दोस्त ने देखा तो चीखने वाला दोस्त दलदल में फंस गया था।  दूसरे दोस्त ने तेजी दिखाते हुए उसे  दलदल  से  निकाल  दिया।

 

 

 

 

इस बार दोस्त कुछ नहीं बोला और उसने एक नुकीले पत्थर से एक बड़े पेड़ के तने पर लिखा, ”  आज  मेरे  सबसे अच्छे दोस्त  ने  मेरी  जान  बचाई। ”

 

 

 

इस बार दूसरे दोस्त से रहा नहीं गया और उसने पहले वाले दोस्त से पूछा, ” जब मैंने तुम्हे थप्पड़ मारा तो तुमने  मिटटी  पर  लिखा  और  जब  मैंने  तुम्हारी  जान  बचाई  तो तुमने  पेड़ के तने पर लिखा, ऐसा क्यों ? ”

 

 

 

 

इसपर दोस्त बोला, ” जब कोई अपना तकलीफ दे तो उसे मन में नहीं रखना चाहिए और इसीलिए मैंने उसे मिटटी पर लिखा।  जिससे वह बहुत ही जल्द मिट जायेगी और   जब  कोई  हमारे  लिए  कुछ  अच्छा  करे  तो उसे इतनी गहराई से अपने मन में बसा लेने चाहिए कि वो कभी हमारे जेहन से मिट ना सके और इसीलिए मैंने उसे तने पर लिखा। “दूसरे दोस्त को बात समझ में आ गयी।  उसने थप्पड़ मारने के लिए माफ़ी मांगी।

 

 

 

 

Very Short Hindi Moral Stories Writing

 

 

 

3-  एक आदमी हमेशा की तरह बाल कटवाने नाई की दूकान बाल कटवाने गया।  वह हमेशा उसी दूकान पर जाता था।  वहाँ अक्सर देश – दुनिया  की  बातें  हुआ करती थीं।

 

 

 

आज भी बहस छिड़ी और सिनेमा, खेत, राजनीति से होते हुए भगवान के अस्तित्व पर आ गयी। नाई ने कहा, ” देखिये, मैं तो भगवान   के  अस्तित्व  में  यकीन  नहीं  करता हूँ। ”

 

 

 

तभी एक आदमी ने कहा, ” क्यों भाई ? तुम ऐसा क्यों कह रहे हो ? ”

 

 

इस पर नाई ने कहा, ” अरे, यह तो बड़ा ही आसान है।  आप गली में जाइये और देखेंगे कि वहाँ कितने लोग बीमार होते हैं,  मृत्यु को प्राप्त होते हैं, बच्चे अनाथ होते है।  अब आप बताइये अगर भगवान होते तो किसी को ऐसी तकलीफ होती ?  मैं  ऐसे  भगवान  के  बारे  में  नहीं  सोच  सकता  जो  इन  सब  चीजों  को  होने  दे।  आप ही बताइए कहाँ है भगवान ?”

 

 

 

आदमी  आगे बोलने जा रहा था, पर बहस आगे ना बढे इसलिए वह चुप हो गया। नाई ने अपना काम ख़त्म किया और आदमी  कुछ सोचते हुए  दुकान  से  बाहर  निकला और कुछ दूर जाकर खड़ा हो गया।

 

 

 

कुछ देर के बाद उसे एक आदमी उसकी तरफ आता हुआ दिखाई दिया। उसकी दाढ़ी-मूंछे काफी बढ़ी हुई थी।  उसे देखकर ऐसा प्रतीत हो रहा था जैसे वह बहुत दिनों से नहाया नहीं हो।

 

 

 

 

आदमी तुरंत नाई के दूकान में वापस गया और बोला, ” तुम्हे पता है, इस दुनिया में नाई नहीं होते हैं। ”

 

 

 

नाई आश्चर्य से बोला, ” ओ कैसे बोला भला।  मैं  साक्षात  तुम्हारे  सामने  खड़ा हूँ। ”

 

 

 

इसपर आदमी ने कहा, ” नहीं होते।  अगर होते तो दुनिया में किसी की भी लम्बी दाढ़ी – मूंछ नहीं होती।  वह सामने देखो उस आदमी की कितनी बड़ी दाढ़ी – मूंछ है। ”

 

 

 

नाई बोला, ” भाईसाहब, नाई होते हैं लेकिन बहुत से लोग हमारे पास दाढ़ी – बाल के लिए नहीं आते।  ”

 

 

इसपर आदमी तपाक से बोला, ‘ बिलकुल सही।  इसीतरह से भगवान होते हैं पर लोग उनके पास नहीं जाते।  उन्हें ढूंढने का प्रयत्न नहीं करते।  इसीलिए दुनिया में इतना दुःख है। नाई को बात समझ में आ गयी और वह भी भगवान को मानने लगा और अच्छे भाव से लोगों की सेवा करने लगा।

 

 

 

मित्रों यह Short Stories For Kids in Hindi Written आपको कैसी लगी जरूर बताएं और Very Short Hindi Moral Stories Pdf की तरह की कहानी के लिए इस ब्लॉग को सब्सक्राइब जरूर करें और Short Stories For Kids in Hindi को शेयर भी करें।

 

 

 

1- New Moral Stories in Hindi 2020 / कैसे ख़त्म हुआ विश्वामित्र जी का अहंकार

 

2- Moral Stories in Hindi For Class 3 Pdf / परी का खजाना मोरल हिंदी कहानी

 

3- Hindi Short Stories For Class 1 / नटखट परी को मिली सजा हिंदी कहानी

 

4- Hindi Story For Class 2 With Moral Pdf / शैतान बन्दर को मिला अच्छा सबक 

 

5- Short Moral Stories in Hindi For Class 1 Pdf / बोलती हुई गुफा की कहानी

 

6- Moral Stories in Hindi For Class 8 Pdf / अच्छा मिला सबक हिंदी कहानी

 

7- Story For Kids in Hindi Written in Short / दयालु लड़की की कहानी

 

8- top 10 moral stories in Hindi

 

 

 

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *